Breaking News
Home / 😍 Love 😘 shayari / Love Shayari

Love Shayari

Muqammal Na Sahi Adhoora Hi Rahne Do,
Ye Ishq Hai Koi Maqsad Toh Nahi Hai.
मुकम्मल ना सही अधूरा ही रहने दो,
ये इश्क़ है कोई मक़सद तो नहीं है।

Chahat Hui Kisi Se Toh Fir Be-Inteha Hui,
Chaha Toh Chahaton Ki Hadd Se Gujar Gaye,
HumNe Khuda Se Kuchh Bhi Na Manga Magar Usey,
Manga Toh Siskiyon Ki Bhi Hadd Se Gujar Gaye.

चाहत हुई किसी से तो फिर बेइन्तेहाँ हुई,
चाहा तो चाहतों की हद से गुजर गए,
हमने खुदा से कुछ भी न माँगा मगर उसे,
माँगा तो सिसकियों की भी हद से गुजर गये।

Na Jahir Hui Tumse Aur Na Hi Bayaan Hui Humse,
Bas Suljhi Hui Aankhon Mein Uljhi Rahi Mohabbat.
न जाहिर हुई तुमसे और न ही बयान हुई हमसे,
बस सुलझी हुई आँखो में उलझी रही मोहब्बत

About Manish Mehta

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *